Tue. Jul 16th, 2019

Digital Trend News

Content You May Like

पंचकूला के कोचिंग सेंटर में कैसी है व्यवस्था

1 min read
Coaching Centers in Panchkula

Coaching Centers in Panchkula

पंचकूला/मोरनी : Coaching Centers in Panchkula सूरत में कोचिंग सेंटर में लगी आग की वजह से बच्चों की हुई मौत के बाद शनिवार को 28 कोचिंग सेंटर को चेक कर उन्हें नोटिस देकर 5 दिन में जवाब देने को कहा है।

सोमवार को करीब 30 कोचिंग सेंटर की चेकिंग कर उन्हें नोटिस जारी किया गया है। वहीं इस सारी व्यवस्था का देखकर प्रशासन की हडबडाहट से ज्यादा कुछ ठोस नही लग रहा ।

इस हादसे के बाद जागे निगम , फायर , शिक्षा विभाग की कार्यवाही बचाकाना पन तक ही सिमटी नजर आ रही है। यहां पर आगजनी को  लेकर केवल कोंचिग सैंटरों की ही नकेल कसने तक विभाग निगम सब सिमट गए । क्या कोई ओर ऐसे भवन पंचकूला में नही है जहां पर भीड आए दिन रिकार्ड तोड रहती हो वहां पर विभाग निगम की आंख नही गई।

जिला में शापिंग माल , बडे होटल तथा अन्य बहुत से सरकारी भवन कार्यालय भी ऐसे है जहां पर हालात कभी भी इंतजामों के बगैर सूरत जैसे हो सकते है।

Coaching Centers in Panchkula

अब नगर निगम ने मामले को गंभीर तौर पर लेते हुए फायर फाइटिंग सिस्टम को चेक करने के निर्देश

जारी किए हैं। सोमवार को नगर निगम के ईओ ने फायर ऑफिसर को लेटर जारी कर कहा है कि वह तीन-चार अलग-अलग लोगों की टीमें बनाएं और उन टीमों को अलग-अलग जगहों पर चेकिंग के लिए भेजें।

ईओ ने जारी किए लेटर में यह निर्देश जारी किया है कि कोचिंग सेंटर्स के साथ-साथ शहर की बड़ी-बड़ी सोसायटीज में चेकिंग करने के लिए कहा और साथ-साथ ही जिन-जिन सोसायटीज में फायर फाइटिंग सिस्टम नहीं चल रहा है या नहीं लगा रखा है उसे तुरंत नोटिस देकर उनके खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है।

वही शिक्षा विभाग के निदेशालय से भी लारवाह कोंचिंग सैंटरों पर सख्ती के लिए पत्र जारी हो गए । ये देर आयद दुरूस्त आयद है मगर इन सैटरों के अलावा कहां -2 सरकारी ,प्राइेवट भवनों में ऐसे हालातम पर कोई मंथन तक नही हुआ

आनन फानन में बडी सी सूची कोंचिंग सैंटरों की बना कर काम मे तेजी दिखा दी जबकि शहर के बीचो बीच कई ऐसे कार्यालय व बहुमंजिला भवन है जहां आग के प्रबंधो के नाम पर महज छोटे -2 फायर इंगिस्टिंग सिस्टम ही लगे है।

Coaching Centers in Panchkula

 

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.