Pulwama Attack पाकिस्तान ने आज कहा कि वह जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के काफिले पर हुए फिदायीन आतंकवादी हमले के बारे में भारत के डोज़ियर के आधार पर पूरी जिम्मेदारी से जांच कर रहा है और उसने भारत से इस बारे में और सबूत मुहैया कराने को कहा है।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने बुधवार को यहां जारी एक विज्ञप्ति में कहा कि पाकिस्तान सरकार ने पुलवामा हमले(Pulwama Attack) पर भारत की रिपोर्ट के आधार पर जांच करने के बाद आरंभिक निष्कर्षों को भारत सरकार के साथ साझा किया है।

विदेश सचिव तहमीना जंजुआ ने भारत के उच्चायुक्त अजय बिसारिया को बुलाया और उन्हें पुलवामा के बारे में निष्कर्षों की रिपोर्ट सौंप दी।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने बयान में कहा कि वह इस सिलसिले में पूरी जिम्मेदारी के साथ काम कर रहा है और भारत के साथ पूरा सहयोग कर रहा है।

बयान में कहा गया, हम क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा की दिशा में काम कर रहे हैं। जांच प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए हमने भारत से और सूचना तथा सबूत मुहैया कराने की मांग की है।

भारत ने 27 फरवरी को पाकिस्तान को पुलवामा हमले(Pulwama Attack) के बारे में एक डोज़ियर सौंपा था। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस हमले के बारे में भारत के साथ सहयोग का प्रस्ताव किया था और विश्वसनीय सबूत मिलने पर समुचित कार्रवाई का भरोसा भी दिलाया था।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के इस बयान पर भारत सरकार की ओर से तुरंत कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी है।